लहसुन-प्याज खाने से घट सकता है कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा: स्टडी
प्याज-लहसुन वाली सब्जी खाने से कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा कम हो सकता है.
प्याज-लहसुन वाली सब्जी खाने से कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा कम हो सकता है.(फोटो: iStock)

लहसुन-प्याज खाने से घट सकता है कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा: स्टडी

अगर आप लहसुन-प्याज की सब्जी खाने के शौकीन हैं, तो आपके लिए एक अच्छी खबर है. प्याज-लहसुन वाली सब्जी खाने से कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा कम हो सकता है. ऐसा एक स्टडी में दावा किया गया है.

डाइजेस्टिव ट्रैक्ट के निचले हिस्से यानी कोलन और रेक्टम (आंत और गुदा) के कैंसर को कोलोरेक्टल कैंसर कहते हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, कोलोरेक्टल कैंसर पूरी दुनिया में आम है और 2018 में इसके 18 लाख मामले सामने आए, जिनमें 8,62,000 की मौत हो गई.

कैंसर से कुल जितनी मौत होती है, उसमें महिलाओं की मौत के मामले में ये दूसरा और पुरुषों की मौत के मामले में ये तीसरा बड़ा कारण है.

Loading...
एशिया पैसिफिक जर्नल ऑफ क्लिनिकल ऑन्कोलॉजी में पब्लिश स्टडी में पाया गया कि प्याज, लहसुन वाली सब्जी ज्यादा खाने वाले वयस्कों में कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा उन लोगों के मुकाबले 79 फीसदी कम पाया गया, जो इस तरह की सब्जियां कम खाते हैं. 

चाइना मेडिकल यूनिवर्सिटी के फर्स्ट हॉस्पिटल के झी ली ने कहा कि हमारी स्टडी से जो निष्कर्ष सामने आए हैं, उसके मुताबिक प्याज और लहसुन वाली सब्जियां ज्यादा खाने ज्यादा सुरक्षा होती है.

स्टडी के नतीजे इस पर भी रोशनी डालते हैं कि लाइफस्टाइल में बदलाव कर किस तरह शुरुआत में ही कोलोरेक्टल कैंसर की रोकथाम कर सकते हैं, जिस पर और खोज किए जाने की जरूरत है. 
झी ली, फर्स्ट हॉस्पिटल, चाइना मेडिकल यूनिवर्सिटी

लहसुन के हैं कई फायदे

लहसुन में मौजूद सल्फर पोषक तत्व के रूप में काम करते हैं.
लहसुन में मौजूद सल्फर पोषक तत्व के रूप में काम करते हैं.
(फोटो: pixabay)

एक्सपर्ट भी लहसुन का खुलकर इस्तेमाल करने की सलाह देते आए हैं. घर के बड़े-बुजुर्गों की सुबह कच्चा लहसुन खाने की सलाह याद है? न्यूट्रिशनिस्ट कविता देवगन इस लेख में बताती हैं कि लहसुन अपने कई फायदों के लिए जाना जाता है. लहसुन मैग्नीज और विटामिन बी 6 का बेहतरीन स्रोत है. इसमें विटामिन सी, कॉपर, सेलेनियम, फॉस्फोरस, विटामिन बी 1 और कैल्शियम भी भरपूर पाया जाता है.

(इनपुट: पीटीआई)

Follow our सेहतनामा section for more stories.

    Loading...