#WhatWeEat: क्या वजन घटाने के लिए जरूरी होता है ‘चावल’ छोड़ना?
क्या चावल छोड़ कर घटाया जा सकता है वजन?
क्या चावल छोड़ कर घटाया जा सकता है वजन?(फोटो: iStock)

#WhatWeEat: क्या वजन घटाने के लिए जरूरी होता है ‘चावल’ छोड़ना?

खाने की थाली में परोसे गए गर्मागर्म चावल किसे पसंद नहीं? भारत की 50 फीसदी आबादी को चावल बेहद पसंद है. एशिया सोसाइटी के मुताबिक भारत में 6 हजार से ज्यादा किस्म के चावल की खेती होती है.

हमारे यहां चावल बहुत खाया जाता है. चाहे उत्तर पूर्व हो, पश्चिम बंगाल हो या उत्तर भारत हो. लेकिन बात जब वजन घटाने की आती है, तो सबसे आम नसीहत, जो हर कोई दे देता है? चावल खाना छोड़ दो.

जी हां, सिर्फ चावल न खाओ. क्या ये इतना आसान है? नहीं क्योंकि ये पूरी तरह से सच नहीं है.

आपके लिए चावल अच्छा है या बुरा ये कुछ चीजों पर निर्भर करता है:

1. कौन सी किस्म का है चावल?

सफेद चावल

सफेद चावल सोडियम फ्री होता है, इसका मतलब है कि ये ब्लड प्रेशर मैनेज करने के लिहाज से अच्छा होता है.

हालांकि इसके हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स का मतलब है कि ये सिंपल शुगर में बड़ी आसानी से टूटता है, जिससे आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है. 

इसीलिए डायबिटिक लोगों को इस चावल से परहेज करने को कहा जाता है.

ब्राउन राइस

ब्राउन राइस काफी हेल्दी होता है.
ब्राउन राइस काफी हेल्दी होता है.
(फोटो: iStock)

ब्राउन राइस काफी हेल्दी होता है. इसे खाने से आप लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस करते हैं और इस तरह ये वजन घटाने में मददगार होता है.

ब्राउन राइस ब्लड प्रेशर रेगुलेट करता है, कैंसर से लड़ने में कारगर होता है, हड्डियों को मजबूत बनाता है और सफेद चावल से अलग इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स लो होता है और इस तरह टाइट 2 डायबिटीज में फायदेमंद होता है.

हालांकि इसे पचाना मुश्किल होता है.

चिपचिपे चावल या ग्लूटनस राइस

लसलसे चावल असमिया खाने का अभिन्न हिस्सा है. ये कोलेस्ट्रॉल घटाते हैं.

खाने में हल्का होने के नाते इन्हें पचाना आसान होता है.

2. कैलोरी

इन तीन तरह के चावल के 1 कप यानी करीब 158 ग्राम में इतनी कैलोरी होती है:

  • सफेद चावल: 206 kcal
  • ब्राउन राइस: 216 kcal
  • चिपचिपे चावल: 169 kcal

3. चावल पकाने का तरीका

  • चावल को ज्यादा पानी में उबाल कर पकाना और फिर एक्स्ट्रा पानी को निकाल देने से स्टार्च लेवल घटता है.
  • उबले हुए चावल फ्राई किए हुए चावल से बेहतर होते हैं.

कब खा सकते हैं चावल?

  • चावल में कार्बोहाइड्रेट ज्यादा होता है, इसलिए अगर आप अपनी बाकी की डाइट में कार्बोहाइड्रेट इनटेक कंट्रोल कर सकते हैं, तो आप चावल खा सकते हैं.
  • अगर आप खासतौर पर वजन घटाने की कोशिश नहीं कर रहे हैं, तो चावल खाएं.
  • अगर आपका मेटाबॉलिज्म मजबूत है और आपका वजन नहीं बढ़ रहा.
  • अगर आपको कोई फर्क नहीं पड़ता.

कब नहीं खाना चाहिए चावल?

  • अगर आपको डायबिटीज है
  • अगर आप वजन घटाने की कोशिश कर रहे हैं
  • मांसपेशियां पतली करना चाहते हैं
  • अगर पहले से ही कार्बोहाइड्रेट से भरपूर आहार ले रहे हैं
ऐसा नहीं है कि बस चावल खाने से आपका वजन बढ़ता है. इसी तरह ऐसा भी नहीं है कि चावल न खाने से आपका वजन घटने लगेगा.

जब तक आपकी डाइट बैलेंस्ड है और आप पहले से ही किसी मेडिकल कंडिशन से नहीं जूझ रहे हैं, तब आपको चावल या रोटी को लेकर माथापच्ची करने की कोई जरूरत नहीं है.

जब आप वजन घटाने की कोशिश कर रहे हों, तो ये किसी जादू से नहीं होगा. वेट लॉस या फिट रहना, ये दोनों चीजें कई तरह की कोशिशों और सुधार का नतीजा होते हैं, इसलिए संतुलन ही अच्छी सेहत का आधार है.

ये भी पढ़ें : फिट Quiz: चावल आपके लिए फायदेमंद है या नुकसानदेह?

खाने में क्या लें, समझ नहीं आ रहा? अपने सवाल fithindi@thequint.com भेजें.

Follow our वजन-कम section for more stories.