सेक्सॉल्व: ‘मेरी पत्नी की जिंदगी में कोई दूसरी महिला है’
‘मुझे डर है कि मेरी पत्नी लेस्बियन है, मैं क्या करूं?’
‘मुझे डर है कि मेरी पत्नी लेस्बियन है, मैं क्या करूं?’(फोटो: iStock)

सेक्सॉल्व: ‘मेरी पत्नी की जिंदगी में कोई दूसरी महिला है’

सेक्सॉल्व समता के अधिकार के पैरोकार हरीश अय्यर का फिट पर सवाल-जवाब आधारित कॉलम है.

अगर आपको सेक्स, सेक्स के तौर-तरीके या रिलेशनशिप से जुड़ी कोई परेशानी है, कोई उलझन है, जिसे आप हल नहीं कर पा रहे हैं या आपको किसी तरह की सलाह की जरूरत है, किसी सवाल का जवाब चाहते हैं या फिर यूं ही चाहते हैं कि कोई आपकी बात सुन ले- तो हरीश अय्यर को लिखिए और वह आपके लिए ‘सेक्सॉल्व’ करने की कोशिश करेंगे. आप sexolve@thequint.com पर मेल कर सकते हैं.

पेश हैं इस हफ्ते के सवाल-जवाब:

‘मैंने देखा मेरा बेटा अपना लिंग सहला रहा था’

डियर रेनबोमैन,

मैं 37 साल की महिला हूं. मेरा एक 9 साल का बेटा है. मेरे पति की सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो जाने के बाद मैं पिछले 3 साल से सिंगल मदर हूं. एक परिवार के रूप में हमारे लिए चीजें आसान नहीं रही हैं. मैं हमेशा दोषी महसूस करती हूं कि मैं अपने बेटे के साथ खुशियों भरा समय नहीं बिता पा रही हूं. मेरे पास एक घरेलू सहायिका है, जो मुझे मेरे बच्चे के दैनिक कार्यों में मदद करती है. हाल ही में मेरी घरेलू सहायिका ने छुट्टी ली थी. इस बीच मैं अपने बेटे के कमरे में गई. मैंने देखा कि वह पूरी तरह से नंगा होकर अपने पेनिस को सहला रहा था. मैं गुस्सा हो गई और उससे कहा कि ऐसा करने की उसकी अभी उम्र नहीं है. मुझे नहीं पता कि मेरा अगला कदम क्या होना चाहिए. क्या आप मुझे गाइड कर सकते हैं? मेरी लाइफ बिल्कुल गड़बड़ हो गई है. प्लीज मेरी हेल्प करें.

चिंतित मां

बच्चे को डांटने की बजाए उसे सही तरीके से गाइड करिए.
बच्चे को डांटने की बजाए उसे सही तरीके से गाइड करिए.
(फोटो:iStock)

प्रिय चिंतित मां,

मैं उस दर्द को समझने का दावा भी नहीं कर सकता, जब कोई अपने साथी को अचानक सड़क दुर्घटना में खो देता है. मुझ पर भरोसा करने और अपने जीवन के इस चुनौतीपूर्ण क्षण को मेरे साथ साझा करने के लिए मैं आपको धन्यवाद देता हूं.

जब कोई दुखद घटना आपको तोड़ कर रख देती है, तो आप आसानी से नियंत्रण और संतुलन खो सकते हैं. अपने बच्चे के साथ अधिक समय न बिताने के बारे में आपकी भावना, इस तथ्य की गवाही देती है कि आप अपने बच्चे के बारे में चिंतित हैं और अभी उसके भविष्य की राह नहीं भटकी है.

अब आपके बच्चे को खुद को करने वाले प्यार-दुलार पर आते हैं. जैसे-जैसे बच्चे बड़े होते हैं, उनके शरीर में बदलाव होता है. इन बदलावों में जननांगों के पास बाल उगने, टेस्टोस्टेरोन का बढ़ना शामिल है. इन बदलावों के साथ उनमें सेक्सुएलिटी की भावना जागती है. अधिकतर बच्चे चाहे वह लड़का हो लड़की, जो महसूस कर रहे होते हैं, उसके साथ समझ बनाने की कोशिश करते हैं और भ्रमित भी होते हैं. उनके जीवन के इस महत्वपूर्ण क्षण में उन्हें किसी के द्वारा प्यार से बातों को समझाने की जरूरत होती है.

मेरा सुझाव है कि आप अपने बच्चे के साथ उसके शरीर के अंगों के बारे में खुलकर बातचीत करें और उसका शरीर किस तरह के बदलाव से गुजर रहा है. इसके साथ ही आवश्यक, सेफ टच और अनसेफ टच के बारे में भी बातचीत करें.

उसका अपने पेनिस को सहलाना बिल्कुल सामान्य है. उसे यह महसूस न होने दें कि वह अपने शरीर के अंगों को नहीं छू सकता है. और ऐसा करने के लिए उसे माता-पिता की मंजूरी लेनी होगी. निजी तौर पर वह जो भी करता है, उसे तय करने के लिए छोड़ देना चाहिए.

हम सिर्फ सार्वजनिक शालीनता और सहमति के बारे में बातें कर सकते हैं. जब वे बड़े होते हैं तो हम उन्हें प्यार और सही उम्र में प्यार करने के बारे में भी बताते हैं. जब उनका शरीर और दिमाग एक समझदारी वाला निर्णय लेने के लिए तैयार होता है.

हम एक ऐसे देश में रहते हैं, जहां बच्चे यह नहीं सोचना चाहते हैं कि उनके माता-पिता सेक्स करते हैं और माता-पिता यह नहीं सोचना चाहते हैं कि उनके बच्चे यौन भावनाएं महसूस करने में सक्षम हैं. अपने बच्चों की भलाई के लिए हमें इसे बदलना होगा. उनसे बात करें. उन्हें शिक्षित करें. इस किशोरावस्था की स्थितियों से निपटने में उनकी मदद करें.

अपने बच्चे को गाइड करिए.

स्माइल

रेनबोमैन

मुझे डर है कि मेरी पत्नी समलैंगिक है

डियर रेनबोमैन,

मेरी शादी को 17 साल हो चुके हैं. मैं तकनीकी रूप से अभी भी विवाहित हूं, लेकिन वास्तव में मेरी पत्नी ने एक अन्य महिला मित्र के लिए मुझे छोड़ दिया है. मुझे शक है कि वह समलैंगिक है. हमारे बीच कोई घरेलू कलह नहीं थी. जब तक यह महिला मेरी पत्नी के जीवन में नहीं आई थी, तब तक हमारी सेक्स लाइफ भी अच्छी थी. उसके आने के बाद मेरी पत्नी ने मुझे एक छोटे से मूर्खातपूर्ण झगड़े के बाद उसके साथ रहने के लिए मुझे छोड़ दिया. मुझे इस दूसरी महिला को उसके जीवन से बाहर निकालने और अपनी पत्नी को फिर से प्यार करने के लिए क्या करना चाहिए?

हबी जान

बिल्कुल प्रैक्टिकल होकर बातचीत करें
बिल्कुल प्रैक्टिकल होकर बातचीत करें
(फोटो:iStock)

डियर हबी जान,

मुझे आप पर भरोसा है क्योंकि आपने मुझे लिखा है. हालांकि, मुझे यकीन है कि आपकी पत्नी के पास भी इस शादीशुदा जिंदगी से जुड़ी एक उनकी अपनी कहानी होगी. यह अजीब लगता है, जब आप कहते हैं कि उसने आपको ‘किसी अन्य महिला के लिए’ कुछ ‘मूर्खतापूर्ण झगड़े’ पर आपको छोड़ दिया. हो सकता है कि जितना यह दिख रहा हो, उससे कहीं अधिक हो.

वह हेट्रोसेक्सुअल हो सकती है, वह बायसेक्सुअल हो सकती है, वह लेस्बियन भी हो सकती है. यह उसके जीवन का एक सच है और जो वह केवल आपको बता सकती है. वो भी तब, जब वह आपको बताना चाहती है. इसलिए मेरा सुझाव है कि आप इस मुद्दे को लेकर अपनी दिमाग पर अधिक जोर न दें.

समान लिंग के लोगों के लिए एक-दूसरे के साथ संबंध बनाना आम है. भारत में ऐसे रिश्ते होना भी आम बात है, जो शब्द के रोमांटिक अर्थों में लगभग ‘रिश्ते’ की तरह प्रतीत होते हैं. शायद यह समय है कि आप उससे एक-एक बात करें. उसे यह बताने का पाप न करें कि आप उसे समलैंगिक मानते हैं. उससे बात करें और उसे बताएं कि आप अपने रिश्ते पर बातचीत के साथ समय देना चाहेंगे. यह बात बहुत भावुक होकर न रखें बल्कि बिल्कुल प्रैक्टिकल होकर बातचीत करें.

गोल्डन रूल्स – कुछ भी मान लेने की बजाए बात करें.

स्माइल

रेनबोमैन

किसी रिलेशनशिप में सेक्स कितना जरूरी है?

डियर रेनबोमैन,

मैं 23 साल का समलैंगिक आदमी हूं. मेरे पास आपसे पूछने के लिए सबसे अजीब सवाल है, लेकिन मेरा विश्वास कीजिए कि यह अभी मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण है. मुझे सेक्स करने का इतना शौक नहीं है. मैं छूने, महसूस करने आदि तरीकों से शारीरिक सुख में विश्वास करता हूं लेकिन सेक्स में नहीं. अगर मुझे सेक्स में अरुचि हो जाए, तो क्या मुझे कोई साथी मिल जाएगा? क्या मैं पर्याप्त रूप से आदमी नहीं होने के लिए परेशान हो जाऊंगा?

मैन इनफ

 हर बार जब आप किसी रिश्ते में होते हैं, तो आपका कोई तय नियम नहीं होना चाहिए.
हर बार जब आप किसी रिश्ते में होते हैं, तो आपका कोई तय नियम नहीं होना चाहिए.
(फोटो:iStock)

डियर मैन इनफ,

आपकी सेक्सुएलिटी और मर्दानगी आपकी कामेच्छा या आपके रूप या आपके शरीर द्वारा निर्धारित नहीं की जाती है. भले ही आप रितिक रोशन की तरह नहीं दिखते हैं, फिर भी आप मैन इनफ हैं. चाहे आप कुछ दिनों के लिए कम सुंदर महसूस करते हैं या कम सेक्सुअल महसूस करते हैं.

यौन या भावनात्मक संबंध में शामिल प्रत्येक व्यक्ति सीमाओं और संबंधों में स्वीकार्य यौन अभिव्यक्ति और व्यवहार को निर्धारित करता है. हर बार जब आप किसी रिश्ते में होते हैं, तो आपका कोई तय नियम नहीं होना चाहिए. लेकिन हां, यह कुछ ऐसा है जिसके बारे में आपका साथी कुछ कहेगा. इसलिए आपके साथ कुछ गलत नहीं है. आप अच्छे हैं.

स्माइल

रेनबोमैन

(लोगों की पहचान सुरक्षित रखने के लिए नाम और कुछ ब्योरे बदल दिए गए हैं. आप भी अपने सवाल sexolve@thequint.com पर भेज सकते हैं.)

(हरीश अय्यर एलजीबीटी कम्युनिटी, महिलाओं, बच्चों और जानवरों के अधिकारों के लिए काम करने वाले समान अधिकार एक्टिविस्ट हैं.)

Follow our सेक्सॉल्व section for more stories.