सेक्सॉल्व: ‘मैंने अपनी दोस्त की बहन के साथ शारीरिक संबंध बनाएं’
सेक्सॉल्व समता के अधिकार के पैरोकार हरीश अय्यर का FIT पर सवाल-जवाब आधारित कॉलम है.
सेक्सॉल्व समता के अधिकार के पैरोकार हरीश अय्यर का FIT पर सवाल-जवाब आधारित कॉलम है.(फोटो:iStock)

सेक्सॉल्व: ‘मैंने अपनी दोस्त की बहन के साथ शारीरिक संबंध बनाएं’

सेक्सॉल्व समता के अधिकार के पैरोकार हरीश अय्यर का FIT पर सवाल-जवाब आधारित कॉलम है.

अगर आपको सेक्स, सेक्स के तौर-तरीके या रिलेशनशिप से जुड़ी कोई परेशानी है, कोई उलझन है, जिसे आप हल नहीं कर पा रहे हैं, या आपको किसी तरह की सलाह की जरूरत है, किसी सवाल का जवाब चाहते हैं या फिर यूं ही चाहते हैं कि कोई आपकी बात सुन ले- तो हरीश अय्यर को लिखिए. वह आपके लिए ‘सेक्सॉल्व’ करने की कोशिश करेंगे. आप sexolve@thequint.com पर मेल कर सकते हैं.

पेश हैं इस हफ्ते के सवाल-जवाबः

‘मैंने अपनी दोस्त की बहन के साथ शारीरिक संबंध बनाएं’

डियर रेनबोमैन

मैं एक 25 साल का युवक हूं. मैं एक लड़की के साथ पहले से ही रिलेशनशिप में हूं. दो सप्ताह बीत चुके हैं, लेकिन मैं इस बारे में खुद को समझा नहीं पा रहा हूं, या जो भी है उसे समझ नहीं पा रहा हूं. मन करता है कि आत्महत्या कर लूं. मैंने जो पाप किया है उसके बाद दुनिया का सामना करने में खुद को मुश्किल में पा रहा हूं.

मैं अपने बेस्ट फ्रेंड के घर पर था, मेरा दोस्त उस समय घर पर नहीं था. उसकी बहन जो मुझसे दो साल जूनियर है, घर पर अकेली थी. हमने कुछ समय तक एक दूसरे को देखा. इस दौरान हमने थोड़ी शराब भी पी. उस समय म्यूजिक भी चल रहा था. जल्द ही हम एक-दूसरे के ऊपर थे. यह सब थोड़ी सी शराब पीने और गले मिलने से शुरू हुआ. इसके बाद चीजें आगे बढ़ती चली गईं. हमने एक दूसरे को बेतहाशा चूमना शुरू कर दिया. उस समय मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ रहा था कि वह मेरे दोस्त की बहन है. मैं भावनाओं में पूरी तरह से बह गया था और खुद को रोक नहीं पाया, ना ही वह खुद को रोक पाई.

हमने यह तीन घंटे से अधिक समय तक किया, जब तक कि मेरे कान में मेरे दोस्त की कार के आने की आवाज नहीं पड़ी. इसके बाद हम दोनों ने जल्दी से उठकर कपड़े पहने और खुद को व्यवस्थित किया. जब दोस्त अंदर आया तो हम लोग ऐसे व्यवहार कर रहे थे जैसे कुछ हुआ ही नहीं है.

अंदर आने के बाद मेरे दोस्त ने हम दोनों से पहला सवाल यहीं किया कि ‘क्या तुम दोनों मौजमस्ती कर रहे थे?’ मुझे बहुत अजीब सा लगा और साथ में शर्मिंदगी भी महसूस हुई. उसकी बहन को भी यह बहुत भद्दा लगा.

मैं उसकी बहन से प्यार नहीं करता. मेरी पहले से ही एक गर्लफ्रेंड है. यह सिर्फ एक रात की बात थी. यह सिर्फ एक गलती थी. मुझे ऐसा लग रहा है जैसे मैं धोखेबाज हूं. मैंने अपने दोस्त को धोखा दिया है. मैंने उसकी बहन को धोखा दिया है. मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को धोखा दिया है. मेरे लिए वफादारी बहुत महत्वपूर्ण है. मैंने अपने सिद्धांतों को तोड़ा है. मैं बहुत शर्मिंदा हूं.

परेशान दोस्त

(फोटो:iStock)

डियर परेशान दोस्त

मैंने आपकी बातों को सुना. मैं समझ सकता हूं आप किस स्थिति से गुजर रहे हैं. मैं आपकी ग्लानि की उस भावना को भी समझ रहा हूं जो ऐसा लग रहा है कि आपको बर्बाद कर देगी. आपने अपने पार्टनर के साथ प्रतिबद्धताओं की सीमा तय की थी. अब आप उसके साथ सहमति की उस सीमा को पार कर गए हैं तो आपको बहुत भयानक लग रहा है. मैं इस बात को भी समझ रहा हूं कि आपको महसूस हो रहा है दोस्त की बहन के साथ शारीरिक संबंध बनाकर आपने दोस्त को भी नीचा दिखाया है. मैं इन बातों को समझ सकता हूं.

मेरा सुझाव है कि आप जल्दी से एक काउंसलर से मिले. विशेष रूप से इसलिए कि आपके मन में आत्महत्या का ख्याल आ रहा है. आपको ठीक लगेगा और चीजें बेहतर होंगी. काउंसलर के पास जाएं और मदद लें. मैं अपने व्यक्तिगत अनुभव से बता रहा हूं, मेरा भरोसा कीजिए. मैंने समस्याओं को कम होते देखा है. जब मेरा दृष्टिकोण व्यापक होता है तो मेरी चुनौतियां कम होने लगती हैं.

मैं कड़े प्रतिबद्ध संबंधों का प्रशंसक नहीं हूं, लेकिन मैं समझता हूं कि हर प्रेमी अपने साथी के साथ किसी भी रिश्ते में अपने लिए अलग सीमा तय करेंगे. यह प्रेमियों की जिम्मेदारी है कि वह उस सीमा का सम्मान करें. हालांकि, यह भी महत्वपूर्ण है कि हम इस बात को समझें कि इसमें हम कभी फिसल भी सकते हैं. मैं आपकी गर्लफ्रेंड नहीं हूं इसलिए मैं उसकी तरफ से कुछ भी नहीं कह सकता हूं. लेकिन मैं जिस्मानी बेवफाई को भले ही नजरअंदाज कर दूं, लेकिन मैं यह बिल्कुल पसंद नहीं करूंगा कि मेरा पार्टनर किसी के साथ भावनात्मक रूप से जुड़े.

मुझे लगता है कि यह आपकी गर्लफ्रेंड का हक है कि वह इस सच को जाने. और इसके बाद उसका जो भी निर्णय हो उसे स्वीकार करने के लिए आपको साहस रखना चाहिए.

आप वासना की राह पर अकेले आगे बढ़े, लेकिन अब पीछे की तरफ लौटें और अपनी गर्लफ्रेंड के अनुसार चले. आपकी गर्लफ्रेंड तय करे कि इस रिश्ते को कैसे आगे बढ़ाना है.

जहां तक अपने दोस्त को शर्मिंदा करने का सवाल है- ठीक है, उसकी बहन और आप दोनों व्यस्क हैं. आपकी बातों से लगता है कि जो कुछ भी आप दोनों के बीच हुआ उसमें दोनों की सहमति थी. तो मुझे ऐसा कोई कारण दिखाई नहीं देता जिससे आपको खुद को दोषी मानें. समय के साथ बढ़ते रहें.

और हां, प्लीज काउंसलर के पास जाना न भूलें. अपने मानसिक स्वास्थ्य को नजरअंदाज न करें. एक वेबसाइट http://samaritansmumbai.com/. है, जिसे आप देख सकते हैं. आप इस वेबसाइट पर जाएं या इन्हें मदद के लिए फोन करें.

प्यार

रेनबोमैन

‘मुझे सेक्स करने की इच्छा महसूस नहीं होती’

डियर रेनबोमैन

मैं एक बहुत ही आकर्षक और भावुक आदमी के साथ रिलेशनशिप में हूं. हम लोग तीन साल से एक दूसरे के साथ हैं, लेकिन हमारे संबंधों में अभी ‘वो सब कुछ’ नहीं हुआ है. मुझे नहीं लगता है कि मुझे उसके साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहिए. ऐसा नहीं है कि मैं उसे पसंद नहीं करती, न ही उसे लेकर मुझे कोई असंतोष है. लेकिन मुझे लगता है कि मेरे में ऐसे सेक्स की भूख नहीं है, जिसमें प्यार और भावनाएं शामिल हों. इससे बेहतर मैं किसी अजनबी के साथ सेक्स संबंध बना सकूंगी. अपने पार्टनर के साथ संबंध बनाने की तुलना में अजनबी के साथ अपनी यौन इच्छाओं के बारे में खुल कर बात कर सकूंगी. इस बात को लेकर मेरा बॉयफ्रेंड थोड़ा परेशान है. इस स्थिति में मैं क्या करूं.

सेक्सी लवर

(फोटो:iStock)

डियर सेक्सी लवर

‘मेकिंग लव’ और ‘सेक्स करने’ में अंतर होता है. ‘सेक्स करने’ करने की तुलना में ‘मेकिंग लव’ में भावनात्मक रूप से ज्यादा जुड़ाव होता है. आपको यह बात समझनी होगी कि ‘सेक्स करना’ आवेग में हो सकता है लेकिन ‘मेकिंग लव’ में बहुत सारा समय, समर्पण की जरूरत होती है. इसमें दोनों की समान अनुभूति भी शामिल होती है. मैं नहीं जानता कि आप दोनों के संबंधों ‘वो सब कुछ’ का अर्थ क्या है. कई लोगों के लिए इसका मतलब यौन संबंध, कुछ के लिए इसका मतलब आपस में मारपीट और कुछ के लिए इसका मतलब सिर्फ एक दूसरे के साथ नग्न अवस्था में सोना हो सकता है.

प्लीज आप इस बात को समझें कि रिलेशनशिप के लिए बहुत समझदारी की जरूरत होती है. इसमें अवरोधों के टकराव होते हैं. ये सबकुछ भावनाओं और व्यक्ति दायरे की सीमा पार करने के कारण होता है.

आपके लिए खुद से पूछना अच्छा रहेगा कि कौन सी चीज आपको रोकती है? क्या बस यहीं है कि आप लव और ‘मेकिंग लव’ को एक ही चश्मे से नहीं देखती हैं, क्या यह आपका आदर्श है या कुछ अन्य सीमित कारक हैं? इसे दर्शाएं.

यह स्वाभाविक है कि कुछ समय बाद आपका पार्टनर, मैं नहीं जानता कि वह कितना खुले दिमाग का है, अपने मन में तुलना करना शुरू कर देगा. यह मानना उसके लिए सामान्य होगा कि आप जिस तरह अजनबी के साथ करने की सोचती हैं, वह उसके साथ नहीं कर सकती हैं. सबसे बुरा होगा यदि वह खुद पर शंका करने लगे और यह सोचना शुरू कर दे कि ‘मैंने क्या गलत किया है’ या ‘क्या मैं ठीक नहीं हूं.’ मुझे यकीन है जो लोग प्यार करते हैं वह प्यार को समझते भी हैं. मैं यह नहीं कह रहा हूं कि यदि आप रिलेशनशिप में हैं तो यौन संबंध बनाने के लिए बाध्य हैं. हालांकि यह भी नहीं है कि आप सेक्स करना ही नहीं चाहती हैं. इस दिशा में काम कीजिए. शायद खुद को थोड़ा ढील दीजिए. उन्हें थोड़ा सा गले लगाइए. प्यार के बदले में प्यार कीजिए. शरीर तो मन का विस्तार है. जब मन प्यार करेगा तो शरीर भी करेगा.

मुस्कुराइये

रेनबोमैन

‘मेरे पति का लिंग बहुत छोटा है.’

डियर रेनबोमैन,

क्या कोई ऐसा तरीका है जिससे मेरे पति के लिंग का आकार बढ़ सके. यह बहुत ही छोटा है और मुझे इससे संतुष्टि नहीं मिलती है.

चिंतित पत्नी

(फोटो:iStock)

डियर चिंतित पत्नी

यदि किसी का लिंग सामान्य से छोटा हो, उस स्थिति में भी संतुष्टि के कई तरीके हैं. कृपया इस बारे में सेक्सोलॉजिस्ट से सलाह लें.

मैं लिंग बढ़ाने वाले कैप्सूल के बारे में नहीं जानता हूं. ऐसे कई विज्ञापन होते हैं और यह कहना बहुत मुश्किल है कि कौन सा फर्जी है और कौन सही है. इस तरह के चालबाजियों के जाल में न फंसें. इस बारे में सिर्फ पेशेवर डॉक्टर की सलाह लें,

सादर

रेनबोमैन

लोगों की पहचान गुप्त रखने के लिए नाम बदल दिए गए हैं. आप भी अपने सवाल sexolve@thequint.com पर भेज सकते हैं)

(हरीश अय्यर समान अधिकार एक्टिविस्ट हैं और एलजीबीटी कम्युनिटी, महिलाओं, बच्चों और जानवरों के अधिकारों के लिए काम करने वाले एक्टिविस्ट हैं.)

Follow our सेक्सॉल्व section for more stories.