डिप्रेशन से लड़ने में मददगार हो सकता है योग, जानिए कैसे
डिप्रेशन से लड़ने में मददगार हो सकता है योग
डिप्रेशन से लड़ने में मददगार हो सकता है योग(फोटो: Rhythum Seth/फिट)

डिप्रेशन से लड़ने में मददगार हो सकता है योग, जानिए कैसे

हम जानते हैं कि कई बार यह बता पाना मुश्किल होता है कि आप पर क्या गुजर रही है और ये किसी अनजान से लड़ने के संघर्ष जैसा होता है. डिप्रेशन (अवसाद) किसी को, कहीं भी घेर सकता है. इसलिए इस हालत को ना केवल समझना जरूरी है, बल्कि इसका मुकाबला करने के असरदार और स्थायी तरीकों की पहचान करना भी जरूरी है.

भारत में डिप्रेशन पर WHO के एक अध्ययन के मुताबिक, 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों में हर 20वां शख्स डिप्रेशन से पीड़ित है.

बीते वर्षों में, योग डिप्रेशन से लड़ने का एक असरदार तरीका बनकर उभरा है. इसने स्ट्रेस और एंग्जाइटी के असर को कम किया है और लोगों के एनर्जी लेवल में सुधार किया है.

तो फिर चंद मिनटों का योग, आखिरकार किस तरह डिप्रेशन से लड़ने में आपकी मदद करता है?

हैप्पी हार्मोंस की सप्लाई

विशेषज्ञों का कहना है कि सेरोटोनिन मुख्य हार्मोन है, जो हमारे मूड को नियंत्रित करता है और हमें खुश रखता है. किसी भी तरह की एक्सरसाइज से शरीर में इस हार्मोन के उत्पादन को बढ़ाने में मदद मिलती है, जो बदले में हमें शांत रखता है. सरल और सुगम योग आसन आपको सकारात्मक विचारों पर ध्यान केंद्रित करने और खुद को खुश रखने में मदद करते हैं!

(कार्ड: श्रुति माथुर)
Loading...

स्ट्रेस और एंग्जाइटी को घटाता है

योग शरीर में तनाव के हार्मोन कॉर्टिसोल के लेवल को कम करने में मदद करता है.

गहरी सांस लेने की तकनीक आपको शांत रखने में मदद करती है और आपको तनाव मुक्त करती है. ये आपकी अंतरात्मा की आवाज से जुड़ने में आपकी मदद करता है और आपकी एनर्जी को सही दिशा में ले जाता है.

(कार्ड: श्रुति माथुर)

आत्म-सम्मान में सुधार

डिप्रेशन अक्सर लगातार कम आत्म-सम्मान के साथ आता है. और हम जानते हैं कि यह किस तरह हमारी जिंदगी को बर्बाद कर सकता है.

रोजाना योगाभ्यास करने से आपके नकारात्मक विचारों को दूर करने में मदद मिलती है. यह आपके व्यक्तित्व को एक अलग स्तर तक पहुंचने में मदद करता है और आत्मविश्वास पैदा करता है. एक बार आजमा कर देखिए!

(कार्ड: श्रुति माथुर)

पोस्ट-ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर (PTSD) से निपटने में मददगार

अध्ययनों से पता चला है कि योग PTSD से निपटने में मदद कर सकता है. सुदर्शन क्रिया योग का नर्वस सिस्टम पर अच्छा असर हो सकता है, और लंबे समय तक इसे करते रहने से किसी शख्स के मानसिक संतुलन को बहाल करने में मदद मिल सकती है.

(कार्ड: श्रुति माथुर)

इसके अलावा, योग आपके दर्द सहने के स्तर को बढ़ाने में भी मदद करता है. तो इसकी मदद से आप उस कभी न खत्म होने वाले पीठ के दर्द और सिर दर्द से बेहतर तरीके से निपट पाएंगे.

हम जानते हैं कि लड़ाई वास्तविक है और सभी इसका सामना करते हैं, लेकिन योग को एक मौका दें और कौन जाने, ये वही हो, जिसका आप इंतजार कर रहे थे!

आइए. एक बार कोशिश करके देखें!

(क्या आपने अभी तक FIT के न्यूजलेटर को सब्सक्राइब नहीं किया है? यहां क्लिक करें और हेल्थ अपडेट सीधे अपने इनबॉक्स में प्राप्त करें.)

ये भी पढ़ें : कमर के बढ़ते साइज से परेशान हैं आप? योग करेगा आपकी मदद

Follow our फिट माइंड section for more stories.

Loading...