स्मोकिंग छोड़ना चाहते हैं, तो शराब पीना छोड़ दें
अगर शराब पीना कम कर दें, तो  स्मोकिंग छोड़ने में भी मदद मिल सकती है.
अगर शराब पीना कम कर दें, तो स्मोकिंग छोड़ने में भी मदद मिल सकती है.(फोटो: iStock)

स्मोकिंग छोड़ना चाहते हैं, तो शराब पीना छोड़ दें

अगर आपको शराब पीने और स्मोकिंग दोनों की आदत है और आप स्मोकिंग छोड़ने की कोशिश कर रहे हैं, तो पहले शराब पीना कम करें.

एक स्टडी कहती है कि धूम्रपान छोड़ने की कोशिश कर रहे बहुत ज्यादा शराब पीने वाले लोग अगर शराब पीना कम कर दें, तो उन्हें स्मोकिंग छोड़ने में भी मदद मिल सकती है.

ये स्टडी 'निकोटिन एंड टोबैको रिसर्च' जर्नल में पब्लिश की गई है.

ज्यादा शराब पीने वाले लोग अगर अपनी इस आदत पर नियंत्रण पा लेते हैं, तो उनके निकोटिन मेटाबोलाइट का अनुपात कम होता है. निकोटिन मेटाबोलाइट अनुपात से ही पता चलता है कि किसी इंसान के शरीर में निकोटिन कितनी जल्दी मेटाबोलाइज होता है.

पहले के रिसर्च बताते हैं कि जिन लोगों में निकोटिन मेटाबॉलिज्म का अनुपात ज्यादा होता है, वो अधिक धूम्रपान करते हैं और उन्हें ये आदत छोड़ने में भी काफी मुश्किल होती है.
कम शराब पीने से किसी व्यक्ति की निकोटिन मेटाबॉलिज्म दर कम होना, उसे धूम्रपान छोड़ने में मदद कर सकती है.
सारा डर्मोडी, सहायक प्रोफेसर, ओरेगोन स्टेट यूनिवर्सिटी

ऐसे में अगर साल 2019 के लिए स्मोकिंग छोड़ना आपका न्यू ईयर रिजॉल्यूशन है, तो पहले शराब पीना कम कर दीजिए.

Follow our सेहतनामा section for more stories.