डेंगू के कारण तीन दिन अस्पताल में भर्ती रहे धर्मेंद्र
फिलहाल वो अपने घर पर आराम कर रहे हैं.
फिलहाल वो अपने घर पर आराम कर रहे हैं.(फोटो: @aapkadharam)

डेंगू के कारण तीन दिन अस्पताल में भर्ती रहे धर्मेंद्र

तीन दिनों तक हॉस्पिटल में एडमिट रहे धर्मेंद्र को सोमवार 7 अक्टूबर की शाम को डिस्चार्ज किया गया. मुंबई मिरर की खबर के मुताबिक पिछले हफ्ते डेंगू होने के बाद उन्हें मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. फिलहाल वो अपने घर पर आराम कर रहे हैं.

धर्मेंद्र अपना ज्यादातर वक्त लोनावला के अपने फॉर्महाउस में बिताते हैं, जहां वो खेती करते हैं, अक्सर सोशल मीडिया पर अपनी तस्वीर शेयर करते हैं. लेकिन तबीयत खराब होने की वजह से अब वो मुंबई में अपने परिवार के साथ हैं. उनके बड़े बेटे सनी देओल ही उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कराकर घर ले आए.

मच्छर के काटने से होता है डेंगू

'डेंगू' एक वायरल बीमारी है, जो संक्रमित एडीज इजिप्‍टी मच्छर के काटने से होता है. इस मच्छर का आकार करीब 5 mm होता है, काले रंग के इस मच्छर पर सफेद धारी होती है.

एडीज इजिप्टी मच्छर दिन के समय काटता है. खासकर बिल्कुल सुबह और शाम को अंधेरा होने से पहले.

Loading...

डेंगू के लक्षण?

डेंगू के लक्षण इस पर निर्भर करते हैं कि डेंगू किस प्रकार का है. डेंगू बुखार के तीन प्रकार हैं-

  1. साधारण डेंगू बुखार
  2. डेंगू हैमरेजिक बुखार (DHF)
  3. डेंगू शॉक सिंड्रोम (DSS)

साधारण डेंगू बुखार खुद से ठीक होने वाली बीमारी है और इससे मौत का खतरा नहीं होता, लेकिन अगर DHF और DSS जानलेवा हो सकते हैं, इसलिए मेडिकल सहायता लेने में देरी न करें.

साधारण डेंगू बुखार के लक्षण

  • ठंड लगने के साथ अचानक तेज बुखार
  • सिर, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द
  • आंखों के पिछले भाग में दर्द होना जो आंखों को दबाने या हिलाने से और भी बढ़ जाता है
  • बहुत ज्यादा कमजोरी
  • भूख न लगना
  • मिचली
  • मुंह का स्वाद खराब होना
  • गले में हल्का सा दर्द
  • शरीर पर रैश होना

डेंगू हैमरेजिक बुखार के लक्षण

साधारण डेंगू बुखार के लक्षणों के साथ-साथ नाक, मसूढ़ों, शौच या उल्टी में खून, स्किन पर गहरे नीले-काले रंग के छोटे या बड़े चकत्ते DHF के लक्षण हैं.

ये भी पढ़ें : बाढ़ के बाद बिहार में डेंगू का खतरा, बढ़ रही मरीजों की संख्या 

डेंगू शॉक सिंड्रोम

डेंगू बुखार में शॉक के लक्षण ये होते हैं:

  1. तेज बुखार के बावजूद शरीर ठंडा महसूस हो
  2. बहुत ज्यादा बेचैनी
  3. बेहोशी
  4. नाड़ी तेज और कमजोर होना
  5. बीपी कम होना
  6. DHF या DSS की ओर संकेत करने वाला एक भी लक्षण नजर आए तो पेशेंट को जल्द से जल्द हॉस्पिटल ले जाना चाहिए.

ये भी पढ़ें : जानिए डेंगू को 48 घंटे में ठीक करने के दावे वाले मैसेज का सच

Follow our सेहतनामा section for more stories.

Loading...