मिलिए 103 साल की एथलीट मान कौर से, जानिए इनके फिटनेस मंत्र

मिलिए 103 साल की एथलीट मान कौर से, जानिए इनके फिटनेस मंत्र

डोले-शोले

कैमरा- अभिषेक रंजन

वीडियो एडिटर- पुनीत भाटिया

चंडीगढ़ की 103 साल की मान कौर, जिन्हें लोग बीजी के नाम से जानते हैं, दुनिया की सबसे बुजुर्ग एथलीट्स में से एक हैं. साल 2009 से बीजी ने दौड़ में हिस्सा लेना शुरू किया.

उन्हें इस मैदान में लेकर आने वाले हैं, उनके 79 वर्षीय बेटे गुरुदेव, जो खुद भी एक एथलीट हैं.  बुजुर्गों के वर्ल्ड मास्टर्स गेम्स में 2011 में बीजी ने 100 मीटर और 200 मीटर की रेस के नए वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किए थे.

बीजी ने 100 साल वाले ग्रुप की रेस में न्यूजीलैंड में अमेरिकन एथलीट के 1 मिनट 18 सेकेंड के रिकॉर्ड को तोड़ कर 1 मिनट 14 सेकेंड का नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है.

बीजी 100 मीटर और 200 मीटर की रेस में हिस्सा लेने अब तक अमेरिका, ताइवान, कनाडा, न्यूजीलैंड और स्पेन जा चुकी हैं, अब बीजी पोलैंड जाने की तैयारी में हैं.

103 की उम्र में भी  बीजी की एनर्जी का सीक्रेट क्या है?

सुबह उठते ही मैं दही या दूध पीती हूं. फिर जो खाना होता है खाती हूं. हरी पत्तेदार सब्जियां खाती हूं जैसे पालक, सरसों का साग, गेहूं की रोटी, गेहूं की रोटी बहुत हेल्दी होती है. खाने के बाद बैठना नहीं है, दौड़ना है. बैठ जाओगे तो दौड़ नहीं पाओगे. फिर घर आकर खाना खा लेती हूं. शाम 4 बजे मैं फल और जूस लेती हूं.
मान कौर

स्टेमिना बनाए रखने के लिए कैसे प्रैक्टिस करती हैं बीजी?

नाश्ता करके मैं दौड़ने जाती हूं, तो पहले मैं 100 मीटर, फिर 30 मीटर तीन बार दौड़ती हूं. फिर 100 मीटर 2 बार दौड़ती हूं. उसके बाद 200 मीटर एक बार दौड़ती हूं.
मान कौर

103 साल की बीजी का यंग एथलीट्स के लिए टिप्स

हेल्दी खाओगे, तभी हेल्दी बनोगे और अच्छा खेल पाओगे. अच्छी बातें करो, गलत बातें मत करो. गलत चीजें खाओगे, तो गलत ख्याल आएंगे.

Follow our डोले-शोले section for more stories.

डोले-शोले