नए साल में फिट रहने के लिए लें ये 6 संकल्प
सेहत के लिए कुछ फायदेमंद आदतों को शुमार करिए.
सेहत के लिए कुछ फायदेमंद आदतों को शुमार करिए.(फोटो:iStock)

नए साल में फिट रहने के लिए लें ये 6 संकल्प

नए साल के लिए ऐसा उम्दा संकल्प लेना, जिस पर लंबे समय तक कायम रह पाना संभव हो, किसी चुनौती से कम नहीं है.

नहीं, आप बॉलीवुड के नए जोड़ों को फॉलो करना बंद नहीं कर सकते हैं. नहीं, आप पूरे साल के लिए वजन घटाने वाली क्रैश डाइट पर नहीं रह सकते हैं. जाहिर है, आप हर बार बिक्री की सेल लगने पर खरीदारी के लिए धुआंधार शॉपिंग पर जाने से भी खुद को नहीं रोक सकते हैं!

लेकिन आप यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप इस आने वाले साल में शारीरिक और मानसिक दोनों रूप से सेहतमंद रहें, अपनी लाइफस्टाइल में सेहत के लिए कुछ फायदेमंद आदतों को शुमार कर सकते हैं.

याद रखें, एक छोटा सा बदलाव भी आपको ताउम्र हेल्दी और फिट रख सकता है.

1. क्लीन ईटिंग यानी साफ-सुथरा खाएं

ताजे फल और सब्जियां डाइट में शामिल करें.
ताजे फल और सब्जियां डाइट में शामिल करें.
(फोटो:iStock)

क्लीन फूड या साफ-सुथरे खाने का मतलब प्रोसेस्‍ड फूड में कटौती करने और ज्यादा असली खाद्य पदार्थ खाने से है.

जंक/प्रोसेस्‍ड फूड मुख्य रूप से सैचुरेटेड फैट, कृत्रिम चीनी और कार्बोनेटेड ड्रिंक्स हैं. जब आप इसे अपने आहार से पूरी तरह से खत्म करने का निर्णय लेंगे, तब आप महसूस करेंगे कि आप यह कितना ज्यादा खा रहे थे.

ताजे फल और सब्जियां, फलिया, मेवे, बीज और साबुत अनाज जैसी चीजों पर फोकस करें, सोडियम पर नजर रखें और शुगर व मीट की खपत में कटौती करें.

चना, चुकंदर, कुट्टू का आटा, टोफू जैसे फूड्स अपनी डाइट में शामिल करें और डिब्बाबंद फूड, स्पोर्ट्स ड्रिंक, आर्टिफिशियल स्वीटनर वगैरह से दूर रहें.

आने वाले साल के लिए आपके खाने के वास्ते क्लीन फूड की पूरी लिस्ट यहां पेश है.

ये भी पढ़ें : क्लीन ईटिंग के लिए अपने आहार में शामिल करें ये 15 खाद्य पदार्थ

2. शरीर में पानी की कमी ना होने दें

पानी की कमी न होने दें
पानी की कमी न होने दें
(फोटो:iStock)

पर्याप्त मात्रा में पानी पीना खुद को सेहतमंद रखने का सबसे आसान और सबसे सस्ता तरीका है- प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से, पानी शरीर में सभी मेटाबॉलिक प्रक्रियाओं को प्रभावित करता है.

और यह आपको सही आकार में रहने में भी मदद करता है!

जब भी आपको भूख लगती है और भोजन या स्नैक्स से पहले एक बड़ा गिलास भरकर पानी पीने से आपको पेट भरा हुआ महसूस होता है. इस वजह से आप जल्दी-जल्दी नहीं खाते हैं.

पर्याप्त पानी सुनिश्चित करता है कि पाचन और पाचन के दौरान रासायनिक क्रिया दोनों अपनी पूरी क्षमता से काम करें. वजन स्थिर रखना (या कम करना) सुनिश्चित करने के लिए पाचन और मेटाबॉलिज्म दोनों में तालमेल होना जरूरी है.

ये भी पढ़ें : पानी के पांच प्रकार, जानिए इनके फायदे और नुकसान

3. व्यायाम, व्यायाम, व्यायाम!

स्वस्थ दिमाग और शरीर के लिए व्यायाम जरूरी है
स्वस्थ दिमाग और शरीर के लिए व्यायाम जरूरी है
(फोटो:iStock)

हां, हम जानते हैं कि आपने भी यह कई बार सुना होगा, लेकिन स्वस्थ दिमाग और शरीर के लिए व्यायाम जरूरी है.

इस साल एक नया अध्ययन भी हमारे सबसे बुरे डर की पुष्टि करता है- व्यायाम ना करना भी स्मोकिंग से कम बुरा नहीं है. और एक्सरसाइज करने के लिए आपको हमेशा जिम जाना जरूरी नहीं है. कई तरह की शारीरिक गतिविधियां हैं, जिनमें से आप कोई भी चुन सकते हैं.

अगर आपको ऑफिस से व्यायाम के लिए वक्त निकालने में मुश्किल हो रही है, तो आप कुछ फटाफट, आसान टिप्स को आजमा सकते हैं. छोटे बदलाव शरीर को चुस्त रखने में काफी मददगार हो सकते हैं.

ये भी पढ़ें : रखना चाहते हैं बीमारियों को दूर तो शुरू कर दें व्यायाम

4. डी-स्ट्रेस

तनाव से बचने का वादा करें.
तनाव से बचने का वादा करें.
(फोटो: iStock)

हमारी पीढ़ी ऐसी है, जो धीमा चलने पर यकीन नहीं रखती. हममें से ज्यादातर लोगों ने अपने लिए ऐसे असंभव स्टैंडर्ड तय कर लिए हैं, जिन्हें हम हासिल नहीं कर पाते हैं, तो हम खुद को और कठिन मेहनत के लिए तैयार करते हैं. लेकिन असल में हम अपनी मंजिल की ओर जाने की बजाए अपनी क्षमताओं का अंत कर रहे हैं.

तो, इस नए साल में खुद को काम पर, घर पर और कहीं भी बर्नआउट से बचाने का वादा करें. खुद को थोड़ा शिथिल करने और रिलैक्स करने के लिए वक्त निकालें, अपने दोस्तों से मिलें, कोई नया शौक पैदा करें- संक्षेप में कहें तो, खुद को थोड़ा समेटें.

जीने का एक धीमा, सरल और सतर्क तरीका बनाएं. हर अनुभव को सहेजने के लिए सचेत ढंग से जीने के लिए सही संतुलन और रफ्तार रखें.

5. अपने दिल का रखें ख्याल

करें अपने दिल की देखभाल
करें अपने दिल की देखभाल
(फोटो: iStock)

यह 2018 के सबसे चिंतनीय रहस्योद्घाटनों में से एक था कि अधिक से अधिक नौजवान दिल की बीमारियों का शिकार हो रहे हैं. स्वास्थ्य पत्रिका लैंसेट के अध्ययन में पाया गया कि 1970 के बाद पैदा हुए लोगों में धमनियों की चौड़ाई कम होने के कारण दिल की बीमारियों से मौत की दर सबसे ज्यादा है.

ऐसे दौर में, अपने दिल की सेहत की देखभाल करना आपके लिए जरूरी है. स्मोकिंग, गतिहीन जीवनशैली, मोटापा और हाई ब्लड प्रेशर से बचें, अपने दिल की सेहत के लिए नियमित जांच कराएं और तनाव से निपटने के लिए काम और जिंदगी के बीच संतुलन कायम करें.

याद रखें: सावधानी बरतने और जिंदगी की शुरुआत में ही सेहतमंद आदतों को अपना लेना हमेशा बेहतर होता है.

ये भी पढ़ें : इस ‘दिल’ के लिए रोजमर्रा की जिंदगी में करें ये 10 हेल्दी बदलाव

6. पर्याप्त नींद लें

अच्छी सेहत के लिए अच्छी नींद जरूरी है.
अच्छी सेहत के लिए अच्छी नींद जरूरी है.
(फोटो:iStock)

नहीं, हम अभी भी पक्के तौर पर नहीं कह सकते हैं कि नींद की कमी हमारे दिमाग को कैसे प्रभावित करती है, लेकिन हम निश्चित रूप से जानते हैं कि रात की अच्छी नींद स्वस्थ जीवन के लिए जरूरी है.

डिप्रेशन, भूख की कमी, वजन बढ़ना, जल्द बुढ़ापा आना, त्वचा की समस्या और ऐसी बहुत सी और समस्याओं के पीछे नींद की कमी भी एक कारण है. नेशनल स्लीप फाउंडेशन के मुताबिक 18 साल से ज्यादा उम्र के किसी भी व्यक्ति के लिए हर रात 8 घंटे की नींद जरूरी होती है.

जी हां. आपका अंदाजा बिल्कुल सही है! सुबह 5 बजे तक पार्टी न करें या एक के बाद एक लगातार बेहिसाब सीरियल ना देखें. सुबह तरोताजा जागने के लिए समय पर सोना सुनिश्चित करें. अच्छी नींद के लिए आप कुछ तरीके अपना सकते हैं. अगर आप बिस्तर में सोने से ज्यादा जागते हुए समय काट रहे हैं, तो इससे बचाव के लिए भी कुछ योग मुद्राएं भी हैं.

तो इस तरह एक खुशनुमा, सेहतमंद और फिट 2019 आपका इंतजार कर रहा है!

ये भी पढ़ें : क्या उम्र बढ़ने के साथ आपको कम नींद की जरूरत होती है?

(फिट अब वाट्सएप पर भी है. जिन विषयों की आप परवाह करते हैं, उन पर चुनिंदा कहानियां हासिल करने के लिए हमारी वाट्सएप सेवाओं को सब्सक्राइब करें. यहां क्लिक करें और ‘सेंड’ बटन दबाएं.)

Follow our फिट जुगाड़ section for more stories.