ब्रेस्ट कैंसर के इलाज में टार्गेटेड रेडिएशन थेरेपी कितनी अहम?
एक्सपर्ट्स के मुताबिक ब्रेस्ट कैंसर के इलाज में टार्गेटेड रेडिएशन थेरेपी बेहतर विकल्प हो सकती है.
एक्सपर्ट्स के मुताबिक ब्रेस्ट कैंसर के इलाज में टार्गेटेड रेडिएशन थेरेपी बेहतर विकल्प हो सकती है.(फोटो: iStock)

ब्रेस्ट कैंसर के इलाज में टार्गेटेड रेडिएशन थेरेपी कितनी अहम?

ब्रेस्ट कैंसर के मामले दुनिया भर में तेजी से बढ़ रहे हैं. समय पर इसकी जांच और पर्याप्त इलाज से ही इसे ठीक किया जा सकता है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक ब्रेस्ट कैंसर के इलाज में टार्गेटेड रेडिएशन थेरेपी बेहतर विकल्प हो सकती है.

राजीव गांधी कैंसर इंस्टीट्यूट एंड रिसर्च सेंटर (RGCIRC) की सीनियर कंसल्टेंट और गायनाक्लॉजी रेडिऐशन डिपार्टमेंट की हेड डॉ स्वरूपा मित्रा बताती हैं कि कैंसर का इलाज तीन तरह से होता है- सर्जरी, रेडिएशन और कीमोथेरेपी.

रेडिएशन थेरेपी का इस्तेमाल सर्जरी के बाद होता है, ताकि दोबारा कैंसर से बचाव हो सके. रेडिएशन से कैंसर कोशिकाएं तो मर जाती हैं, लेकिन इससे स्वस्थ कोशिकाओं को भी नुकसान पहुंचता है. अब 3डीसीआरटी और आईएमआरटी जैसी टार्गेटेड रेडिएशन थेरेपी से ये परेशानी काफी हद तक दूर हो गई है. इसमें स्वस्थ कोशिकाओं को बचाते हुए सीधे प्रभावित क्षेत्र पर रेडिएशन देना संभव होता है.
डॉ स्वरूपा मित्रा

आरजीसीआई के ओंकोलॉजी डिपार्टमेंट के कंसल्टेंट डॉ कुमारदीप दत्ता चौधरी ने बताया कि भारत के शहरी इलाकों में महिलाओं में होने वाले कैंसर में सबसे बड़ा हिस्सा स्तन कैंसर का है. यहां तक कि 20-30 साल की युवतियां भी इसका शिकार हो रही हैं.

बिना मेहनत वाली लाइफस्टाइल, प्रोसेस्ड और जंक फूड खाने की आदत और खेतों में इस्तेमाल होने वाले पेस्टिसाइड्स की वजह से देश में कैंसर के मामले बढ़ रहे हैं.
डॉ कुमारदीप दत्ता चौधरी

डॉ दत्ता ने कहा, 'इससे बचने के लिए सभी को शारीरिक श्रम करने, घर पर बना सेहतमंद खाना खाने और खाने से पहले फलों और सब्जियों को अच्छी तरह धोकर खाने की जरूरत है.'

ये बातें इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, अलवर ब्रांच और आरजीसीआई की ओर से आयोजित डॉक्टर्स मीट में स्तन कैंसर के इलाज की नई तकनीकों पर चर्चा के दौरान की गईं.

ये भी पढ़ें : ब्रेस्ट कैंसर: इन चीजों पर ध्यान देना है जरूरी

Follow our कैंसर section for more stories.